Depression Treatment in Hindi

Depression के treatment के लिए कई प्रभावकारी तरीके हैं: जैसे कि

  1. समर्थन 
  2. साइकोथेरपी – इसे टॉकिंग थेरेपी भी कहा जाता है, जैसे कि – कॉग्निटिव बिहेवियरल थेरेपी (CBT)।
  3. दवाइयों द्वारा इलाज – एंटी-डेप्रेसेंट्स का उपयोग होता होता है। 
  1. अपनी lifestyle improve करके
  2. घरेलू इलाज
  3. आयुर्वेदिक herbs
  4. आयुर्वेदिक मेडिसिन्स

किस व्यक्तिके साथ क्या ट्रीटमेंट करनी है  ये depression के  कारणों  पर  निर्भर  करेगा |

अवसाद के उपचार के लिए अपने आपको दवा पर निर्भर ना करें। अवसाद की समस्या से प्राकृतिक रूप से छुटकारा पाने के लिए खुशहाल जीवन शैली का पालन करें और सुखद आहार का सेवन करें।

  1. समर्थन

मदद मांगिये:

 यदि आपको लगता है कि आप depression में जा रहे हैं या already depressed हैं तो इस बात को छुपाइये नहीं, और ना ही इसको  लेकर हीन महसूस करे क्योंकि depression एक बहुत ही आम बिमारी  है , और इसका उपचार पूर्णतः संभव है | इसे छिपाना इसे बढ़ावा देने जैसा है |

Emotional Skills develop करिए :

बहुत लोग तनाव को सही से deal नहीं  कर पाते हैं और भावुक हो जाते हैं | Emotional skills आपको विपरीत परिस्थितियों में अपना balance बनाये रखने में मदद करती हैं |

स्पेशलिस्ट से मदद लीजिये :

यदि इन सब चीजों से बात ना बने तो किसी mental health professional से मदद लीजिये |

2 .अपनी  lifestyle improve कीजिये :

ऐसा आप इन तरीकों से कर सकते हैं:

  • रिश्तों में सुधार ला कर
  • रोज व्यायाम करके
  • सेहत से भरपूर भोजन करके
  • Relaxation techniques प्रयोग करके
  • नकारात्मक सोच बदल कर

डिप्रेशन से बचने के लिए आहार – Diet for depression patients in hindi

 

यह वैज्ञानिक रूप से साबित हुआ है कि कुछ खाद्य पदार्थ हमें खुश महसूस कराते हैं। तो आज हम आपको बताते हैं कि खुश रहने और अवसाद से छुटकारा पाने के लिए आपको किस तरह के आहार का सेवन करना चाहिए।

डिप्रेशन में क्या खाएं – Food to eat during depression in hindi

ट्रिप्टोफैन, ओमेगा -3 फैटी एसिड फोलिक एसिड से समृद्ध भोजन  जैसे शतावरी, अंडे, हल्दी, कद्दू बीज , बादाम और काजू  आदि

 serotonin के स्तर में वृद्धि करने में मदद करते हैं जो आपके मूड में सुधार लाते हैं। 

अपने आहार में विटामिन और मैग्नीशियम का भी सेवन करें।

ताजे फल और सब्जियां खाएं।

अवसाद से बचने के लिए क्या नहीं खाएं – Food not to eat during depression in hindi

कैफीन, निकोटीन और शराब depression में हानिकारक हैं।

सभी प्रकार के फास्ट फूड,  हाइड्रोजनीकृत तेल, ट्रांस फैट, रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट और आर्टिफीशियल स्वीटनर्स का सेवन नहीं करें।

अवसाद से निकलने का उपाय है व्यायाम – Exercise to get rid of depression in hindi

व्यायाम जैसेः

  • बाइकिंग
  • नृत्य करना​​
  • दौड़ना और चलना।
  • टेनिस खेलना
  • तैरना

योगासन जैसे

 हलासन, 

पश्चिमोत्तानासन,

 सर्वांगासन, 

शवासन 

सूर्यनमस्कार

आदि अवसाद के इलाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

उदास मनोदशा को ठीक करने के लिए सुबह में ध्यान करें और धीरे-धीरे गहरी सांस लें। आप सुबह में टहल भी सकते हैं। इससे आप खुश रहेंगे।

डिप्रेशन को दूर करने के उपाय हैं पवित्र शास्त्र – Books to help overcome depression in hindi

मानसिक आध्यात्मिकता (mental spirituality) से संबंधित अच्छी किताबें या उपन्यास पढ़ें। भजन सुनें और पवित्र शास्त्र पढ़ें। यह आपको आंतरिक शांति प्रदान करते हैं और आपके मन में सकारात्मक विचारों को प्रोत्साहित करते हैं।

 अवसाद से बचाव में सुनें मधुर संगीत – Listening to music helps depression in hindi

अपने चारों ओर ख़ुशी का माहौल बनाने के लिए संगीत की मदद लें। मधुर और अच्छे गाने सुनें।

डिप्रेशन की दवा है जल्दी उठना, जल्दी सोना –  

Sleep early get up early

  • सूर्योदय के साथ जागें | रात को देर से ना सोये । सोने से कम से कम आधे घंटे पहले लैपटॉप या मोबाइल फोन ना देखे | जिसकी आपको आवश्यकता है ऐसी स्वास्थ्यवर्धक नींद लें।

 डिप्रेशन से निकलने का तरीका है अपना शौक पूरा करना – 

अपने शौक को पूरा करें जो आपको ख़ुशी देते हैं। अपने दोस्तों और परिवार के साथ समय बिताएं और उन लोगों के आसपास रहें जो आपको खुशी देते हैं।

अपने मन से नकारात्मक विचारों को दूर करें और मन को सकारात्मक विचारों से भर दें।

  • ध्यान तनाव को दूर करने में बहुत सहायक हैं।
  • आप आराम से बैठें, आँखें बंद करें, और अपनी श्वास पर 10-15 मिनट तक ध्यान केन्द्रित करें।
  • निश्चित करें कि आपको सूर्य का पर्याप्त प्रकाश मिले।
  • अपनी उपचार योजना पर टिके रहें।

Leave a Comment